तहसील भवन की  नीव खुदाई में निकले बारूदी गोले ,पुलिस ने रुकवाई खुदाई

20

अलीगढ़ कस्बे के बाला किला चोक पर स्थित पुरानी तहसील की दीवार खुदाई के दौरान नीव में सेकड़ो की तादाद में बारूदी हथगोले निकले से हड़कम्प मच गया। सूचना पर अलीगढ़ पुलिस तथा पुलिस उप अधीक्षक किशोरी लाल ने मौके पर पहुंच कर दीवार की खुदाई को रुकवा दिया। पुलिस ने उच्च अधिकारियों को घटना से अवगत कराते हुए हथगोलों की फोरेंसिक जांच कटवाने के लिए फॉरेन्सिक टीम को।मौके पर बुलवाया। इस दौरान मोके पर भारी भीड़ जमा हो गई।

बताया जाता है कि टोंक नवाबी काल के दौरान इस भवन में टोंक के तत्कालीन नवाब रहा करते थे,,, क्षेत्र की सुरक्षा के चलते नवाब इस भवन में बारूद, गोले, तोपें सहित अन्य हथियारों का जखीरा जमा रखते थे,,, नवाब काल समाप्त होने के बाद सरकार ने इस भवन में तहसील कार्यालय स्थापित कर दिया था,,, भवन काफी क्षतिग्रत हो जाने पर राज्य सरकार द्वारा तहसील कार्यालय के लिए नए भवन का निर्माण कर देने पर इस भवन को पास ही स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक आवास निर्माण के लिए आवंटित कर दिया था,,, जिसके चलते सामुदायिक चिकित्सालय द्वारा पुराने तहसील भवन की खुदाई करवाई जा रही थी,,, रविवार को दोपहर बाद खुदाई में भारी मात्रा में बारूदी हथगोले निकलने तथा हथगोले में विष्फोट होने के डर से खुदाई रोककर चिकित्सालय प्रभारी को सूचना दी,,, अब पुलिस ने खुदाई पर रोक लगाते हुए अब तक उठाया गया मलवा तथा बारूदी हथगोलों को अपने कब्जे में कर लिया है।