गौवंश तस्कर पुलिस की गिरफ्त में गौसेवकों की मदद से पुलिस को मिली कामयाबी

18

सख्त कानून के बावजूद भी प्रदेश में गौ तस्करी रुकने का नाम नहीं ले रही या यूं कहा जाए की मिलीभगत से आज भी प्रदेश में गौ तस्करी को अंजाम दिया जा रहा है। ऐसा इसलिए कि टोंक जिले से गुजर रहे नेशनल हाईवे से कंटेनर में भर कर गोवंश की तस्करी की जा रही थी लेकिन गौ सेवकों को इसकी सूचना लगी और गौसेवको ने पुलिस की मदद से कंटेनर को रोककर गौ तस्करों को पकड़ा।

दरअसल टोंक में गौरक्षकों को सूचना मिली थी की चाकसू इलाके से गौ तस्कर तीन कंटेनरों में गौवंश भरकर गोवंश तस्करी करने के लिए ले जा रहे हैं। ऐसे में गौरक्षकों ने जगह जगह अपने कार्यकर्ता खड़े किए जैसे ही एक संदिग्ध कंटेनर उनको दिखा तो रोकने की कोशिश की सदर थाना पुलिस को सूचना दी गई पुलिस ने थाने के बाहर नाकेबंदी की और सामने से आ रहे उत्तर प्रदेश नम्बर के कंटेनर यूपी 21 ए एन 3311 को रोका तो कंटेनर में क्रूरता से गोवंश को भरा हुआ था। ऐसे में पुलिस ने तीन लोगों को कंटेनर से हिरासत में लिया पूछताछ की तो सामने आया कि तीनों गौ तस्कर बोतल गंज मंदसौर मध्य प्रदेश के रहने वाले हैं साथ ही यह मध्यप्रदेश में गोवंश की सप्लाई करने वाले थे पुलिस ने गौ तस्करी के आरोप में रहीम, इजहार व आसिफ को गिरफ्तार किया है। वही गोवंश को गांधी गौशाला मैं छुड़वाकर चारे पानी की व्यवस्था की गई।